Hindi

por Ravi Kumar

आदमी के पंथ

मैं जीवन में विश्वास रखता हूँ,
हे माँ सर्वशक्तिमान,
आकाश और पृथ्वी के निर्माता
मैं आदमी में विश्वास करता हूँ 
जो आपका बुद्धिमान बच्चा है,
जो उत्साही है और विकास की कल्पना में लगा है,
वह प्रगति करना जानता है 
बावजूद इसके कि पुन्तियुस पिलेट्स जैसे लोग भी हैं एस संसार में जो 
दमनकारी सिद्धांत के निर्माता हैं 
जो जिंदगी का अंत करते हैं और उसे दफना देते हैं

तबभी जीवन फिर से उगता है,

उसीतरह जैसे मनुष्य अपनी यात्रा जारी रखता है अगले नए दिन को

मैं भावना के क्षितिज में विश्वास रखता हूँ

मैं विश्वास रखता हूँ दुनिया के कॉस्मिक ऊर्जा में,

मैं विश्वास रखता हूँ मानव जाति के सतत विकास में,

मैं विश्वास रखता हूँ अनन्त जीवन में.            आमीन